Rto full form in hindi

नमस्कार दोस्तों आज हम rto full form के बारे में जानेंगे और इससे जुड़ी हुई कुछ और चीजें भी।

RTO full form in English :

अगर हम rto full form in english में देखे तो यह होता है !

RTO: REGIONAL TRANSPORT OFFICE

यह फुल फॉर्म अंग्रेजी में है।

Rto full form

RTO full form in Hindi :

RTO की फुल फॉर्म हिंदी में:

“क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय” होता है

What is RTO ? क्या होता है RTO ?

 RTO एक प्रकार से क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय होता है और भारत सरकार की सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के अधीन काम करता है।

हर एक प्रदेश में और लगभग हर एक शहर में इसकी स्थापना होती है जिससे कि लोगों को सुविधा हो सके।

अगर आपको नए वाहनों का पंजीकरण कराना है रोड की टैक्स से जुड़ी हुई काम है या फिर ड्राइविंग लाइसेंस (driving license) बनवाना है तो भी इसकी जरूरत पड़ती है।

ALSO READ: OMG! world’s longest GIF and gif full form

ALSO READ: google full form|what is the full form of google

Work in RTO OFFICE :

यहां पर बहुत सारे कार्य होते हैं जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं।

DRIVER LICENSE ISSUE:

यहां पर आपको ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने का मौका या सुविधा दी जाती है। और शुरुआत से लेकर आखिरी तक सारा रिकॉर्ड इनके पास मौजूद रहता है।

आपको कभी भी कोई सी चीज की जरूरत हुई तो उनके पास सारा डाटा मौजूद रहता है।

VEHICLE REGISTRATION CERTIFICATE:

जब भी आप कोई नया वाहन खरीदते हैं चाहे वह कार हो या फिर दो पहिया वाहन आपको उसका रजिस्ट्रेशन करवाना होता है और सर्टिफिकेट भी होना आवश्यक है।

इन सभी कार्यों के लिए या ऑफिस बनाया गया है जिससे कि लोगों को इधर-उधर भटकना न पड़े बल्कि सुविधाजनक तरीके से सारे कार्य हो सके।

इसीलिए लगभग सभी जगह rto office मौजूद है।

Fitness certification :

यह ऑफिस फिटनेस सर्टिफिकेट वाहन के लिए प्रदान करता है।

Documents required for RTO vehicle Registration: 

 किन-किन दस्तावेजों की जरूरत पड़ती है जब आप अपने वाहन का रजिस्ट्रेशन करवाने जाते हैं ऑफिस में।

  • Form 20 i.e. application form for registration of the vehicle (फॉर्म २० – एप्लीकेशन फॉर्म वाहन का)
  • Age and address proof documents (आपकी आयु और निवास प्रमाण पत्र)
  • Passport size photographs( पासपोर्ट साइज फोटो)
  • Form 21 i.e. sales certificate of the vehicle (फॉर्म २१)
  • Form 22 i.e. roadworthiness certificate (फॉर्म २२)
  • PUC certificate (PUC सर्टिफिकेट)
  • Insurance of the vehicle to be registered (इंसुरांस वाहन का)
  • Customs clearance certificate 
  • Sales tax certificate
  • No Objection Certificate (NOC)
  • Temporary registration number
  • Invoice of vehicle
  • Applicable FEES

What is the salary of RTO officer:

RTO officer की सैलरी लगभग 4 -6 lakhs के बीच में होती है।

यह एक बहुत ही अच्छी और सुविधाजनक नौकरी है।

RTO के State Codes :

जब भी आपने किसी गाड़ी की नंबर प्लेट देखी होगी तो आपने देखा होगा उस नंबर प्लेट पर नंबर से पहले कुछ लिखा होता है जैसे कि:

UP या फिर AP 

इसका मतलब होता है की हर एक प्रदेश का अपना कोड होता है जिससे कि गाड़ी को पहचानने में आसानी हो सके। सारे प्रदेशों का कोड आपको नीचे बता रहा हूं।

AP – Andhra Pradesh 

आंध्र प्रदेश

AR – Arunachal Pradesh 

अरुणाचल प्रदेश

BR – Bihar

बिहार

CH – Chhattisgarh

छत्तीसगढ़

GA – Goa

गोवा

GJ – Gujarat

गुजरात

HP – Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश

HR – Haryana

हरियाणा

JH – Jharkhand

झारखंड

JK – Jammu and Kashmir

जम्मू और कश्मीर

KA – Karnataka

कर्नाटका

KL – Kerala

केरला

LD – Lakshadweep

लक्षदीप

MH – Maharashtra

महाराष्ट्र

ML – Meghalaya

मेघालय

MN – Manipur

मणिपुर

MP – Madhya Pradesh

मध्य प्रदेश

MZ – Mizoram

मिजोरम

NL – Nagaland

नागालैंड

OD – Odisha

उड़ीसा

PB – Punjab

पंजाब

RJ- Rajasthan

राजस्थान

SK – Sikkim

सिक्किम

TN – Tamil Nadu

तमिल नाडु

TS – Telangana

तेलंगाना

TR – Tripura

त्रिपुरा

UP – Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश

UK – Uttarakhand

उत्तराखंड

WB – West Bengal

पश्चिम बंगाल

Rto full form & Codes

गाड़ी का रजिस्ट्रेशन कराना और ड्राइविंग लाइसेंस होना सबसे जरूरी है क्योंकि इसके बिना अगर आप गाड़ी चला रहे हैं तो या एक अपराध की श्रेणी में भी आता है और अगर आप बिना इसके पकड़े जाते हैं तो जुर्माना भी हो सकता है।

इसलिए आप कोशिश करिए कम से कम यह तो चीज है आपके पास जरूर हूं जिससे कि आप सुरक्षित रह सके।

इसे बनवाने में बहुत ज्यादा कठिनाई नहीं होती है परंतु कुछ जगहों पर होती भी है परंतु आप कोशिश करें कैसे भी करके यह दो चीजें जरूर बनवा लें

Conclusion:

यहां पर हमने आप को Rto full form और rto codes और थोड़ा उसके बारे में जानकारी देने की कोशिश की है।

उम्मीद है आपको जानकारी समझ में भी आई होगी और अच्छी भी लगी होगी।

आप अपने विचार नीचे कमेंट में बता सकते हैं और हमारे साथ सोशल मीडिया पर जुड़ भी सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *