rss full form kya hota hai|आरएसएस का फुल फॉर्म

hindividyalaya में आपका स्वागत है |आज के इस article में हम rss full form के बारे में जानेंगे|साथ ही साथ हम यह भी जानेंगे की rss का गठन क्यों हुआ| rss क्या काम करता है|

हिंदीविद्यालय आपको हमेशा सही और सटीक जानकारी provide करता है|तो आइये दोस्तों जानते है rss के full form के बारे में|

rss full form होता है :

  • RSS: Rashtriya Swayamsevak Sangh
  • RSS: Really Simple Syndication

जैसा की अपने rss के full form के बारे में जाना अब हम rss के बारे में पूरा details में जानेंगे|

rss full form

rss का full form होता है Rashtriya Swayamsevak Sangh |जिसका गठन 27 सितम्बर 1925 को किया गया|उस दिन विजयदशमी का दिन था|जिसके संस्थापक Keshav Baliram Hedgewar थे|

RSS: Rashtriya Swayamsevak Sangh (आरएसएस का फुल फॉर्म)

rss का full form होता है Rashtriya Swayamsevak Sangh |जिसका गठन 27 सितम्बर 1925 को किया गया|उस दिन विजयदशमी का दिन था|

Rashtriya Swayamsevak Sangh एक राष्ट्रीय देश भक्त संगठन है|यह एक गैर सरकारी संगठन होने के बाद भी विश्व का सबसे बड़ा स्वैछिक गैर सरकारी संगठन है|

अगर Rashtriya Swayamsevak Sangh के संस्थापक की बात करे तो यह Keshav Baliram Hedgewar द्वारा इस संगठन को स्थापित किया गया था|

अगर हम Rashtriya Swayamsevak Sangh (rss) के विचारधारा की बात करे तो rss का कहना है की हम देश के लिए निः स्वार्थ भाव से काम करने की विचारधारा पर चलते है|

अगर हम Rashtriya Swayamsevak Sangh के इतिहास की बात करे तो इसका गठन 27 सितम्बर 1925 को किया गया था|जिसका एक मात्र उद्देश्य था भारत के लोगो की निः स्वार्थ भाव से सेवा करना|

इनका प्रमुख उद्देश्य क ऐसा संगठन बनाना है जो हिन्दू संस्कृति का इस्तेमाल करके लोगो को उनके जीवन में character ट्रेनिंग दे सके| और साथ ही साथ लोगो में देशभक्ति की भावना भर सके| इसके अलावा rss के लोगो द्वारा आप किसी भी natural disaster में लोगो की मदद करते हुए देख सकते है|

और साथ ही साथ इस संगठन का उद्देश्य यह भी है की हिंदुत्वा की परम्परा को आने वाली भावी पीढ़ी में सही तरह से ट्रान्सफर करना ताकि हिंदुत्वा का प्रचार प्रसार हो सके | और हमारी परम्परा बची रहे|

rss full form
rss full form

rss का हिदुत्वा के प्रति झुकाव को देखते हुए उसके साथ कई तरह की controversies भी हुई है |अगर हम rss के Controversies की बात करे तो ब्रिटश time से लेकर अब तक इसे तिन बार इस पर प्रतिबंधित लगाया जा चुकी है|सबसे पहली बार 1948 में जब गाँधी जी की हत्या हुई तो rss के ही एक सदस्य नाथू राम गोडसे द्वारा की गई थी तब rss पर पहली बार प्रतिबन्ध लगा था|

दूसरी बार आपात काल के दौरान जब 1975 से लेकर 1977 तक congress party की सरकार में प्रधानमंत्री इन्द्रागांधी द्वारा आपातकाल लागु किया गया था|तब rss को ban कर दिया गया था|

1992 में जब बाबरी मस्जिद का विध्वंस हुआ तब भी rss पर प्रतिबन्ध लगाया गया था|इसका कारण बाबरी विध्वंस में rss की संलिप्तता होने के संदेह थे|उस समय भी congress party की ही सरकार थी|

RSS: Really Simple Syndication

rss का full form Really Simple Syndication भी होता है|यह term web content और technical चीज जैसे की computer और internet से जुड़ा हुआ है|इसको हम एक और दुसरे नाम से भी जानते है जिसे Rich Site Summary कहा जाता है|

अगर हम साधारण भाषा में Rich Site Summary के बारे में जाने तो यह web content को syndicate करता है|यह web content को news feed हेडलाइंस और event summary में अपडेट करने के लिए किया जाता है|

Really Simple Syndication को 1995 में envelope किया गया था|Ramanathan V. Guha aur Apple Computer’s Advanced Technology Group के लोगो द्वारा envelope किया गया था|

rss web content को automatically syndycate कर लेता है जिसका फायदा publisher और reader दोनों को मिलता है|यह reader को एक facility provide करता है जिससे की reader उस ब्लॉग या वेबसाइट को सब्सक्राइब कर लेता है जो उसकी पसंद की वेबसाइट है|और उस ब्लॉग या वेबसाइट के सारे updated content को बिना उसकी साईट पर जाये ही पढ़ लेता है|यह बहुत ही बढ़िया idea था|

conclusion : rss full form

इस artical के माध्यम से हमने आपको rss full form kya hai के बारे में बताया|आपको यह information कैसी लगी हमें जरुर बताये|

अगर आपको किसी औरfull form ya rss full form के बारे में जानना है| तो हमें कमेंट करके जरुर बताये| हम आपको उसका answer provide करने की कोशिश करेंगे|

rss full form kya hai पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करे ताकि उन्हें भी सही और सटीक जानकारी प्राप्त हो सके|

अगर आपको Social networking sites and हमारे Social Media जैसे facebook , pinterest , linkedin , quora और HindiVidyalaya के साथ जुड़े रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *