रंगों के नाम हिंदी में – Colours Name in Hindi

हेल्लो स्टूडेंट आज हम आपको colours name in hindi के बारे में बताने वाले है. 10 colours name in hindi, ये सवाल हमसे कभी न कभी पूछ ही लिया जाता है. हमे लगता है कि हम हर रंग के बारे में जानते है लेकिन इसके बावजूद हम परीक्षा में सही जवाब नही दे पाते है. तो आपको ये पता होना चाहिए कि colours कौन कौन है ?

हम रंगो के प्रकार के बारे में केवल उतना ही जानते है जितना हमने सीखा है या फिर पढ़ा है. जबकि रंगो के प्रकार हमारी सोच से कहीं ज्यादा है. आज के इस लेख में हम आपको रंगो के प्रकार के बारे में बताने वाले है. साथ ही हम आपको इंद्रधनुष के रंगो के बारे में भी जानकारी देंगे और 10 colours in hindi की पूरी जानकारी देने वाले है. तो आइये जानते है colours name in hindi …

रंगो के प्रकार

रंग वैसे तो 3 प्रकार के होते है लेकिन कुछ लोग इसे 2 या फिर 5 प्रकार का भी बताते हियो लेकिन हम आपको वहीँ बताने वाले है जिसे सबसे ज्यादा लोग सही मानते है और वह है रंग 3 प्रकार के होते है. जिसमे पहला है प्राथमिक रंग दुसरा है द्वितीय रंग और तीसरा रंग है पूरक रंग

  • प्राथमिक रंग
  • द्वितीय रंग
  • पूरक रंग

प्राथमिक रंग क्या होता है ?

प्राथमिक रंग अक्सर बोर्ड इग्जाम में पूछा जाने वाला सबसे महत्वपूर्ण प्रश्न है और आगे कई बड़ी परीक्षाओं में भी इसे पूछा जाता है. प्राथमिक रंग हमे उसे कहते है जो तीन रंगो से मिलकर बना होता है. जैसे लाल, हरा और नीला. अगर आप प्राथमिक रंग याद नही कर पाते है तो इसके लिए भी एक आसान उपाय है. वो है नीहाल. नी से नीला, ह से हरा और ल से लाल.

द्वितीयक रंग

इसके बारे में जानकारी इसके नाम में ही मिल जाती है द्वितीयक यानी 2. इसलिए आप कह सकते है 2 प्राथमिक रंग मिलकर बने रंग को द्वितीयक रंग कहते है. सीधे शब्दों में आप ये कह सकते है 2 रंग मिलकर द्वितीय रंग कहते है. इसे आप ऐसे याद कर सकते है लाल और हरा को आपस में मिलाने पर पीला रंग बनता है और ऐसे ही हरे और नीले रंग को मिलाया जाए तो ये पीकाक रंग बनता है. अब लाल और नीले को मिलाया जाए तो ये मजेंटा रंग बनता है.

पूरक रंग

जब प्राथमिक रंग और द्वितीयक रंग को आपस में मिला दिया जाए तो सफेद रंग बनता है. इसे आप ऐसे समझ सकते है जैसे अगर प्राथमिक रंग हरा के साथ द्वितीयक रंग मजेंटा को आपस में मिला दे तो ये सफेद बनता है जोकि पूरक कहलाता है. ऐसे ही अब पीकाक और लाल रंग की मिला दें तो सफेद रंग बन जायेगा. ऐसे ही पीला और नीला रंग मिलाया जाए तो ये सफेद बनता है.

All Colours Name in Hindi 

ये थे रंगो के प्रकार अब रंग कितने होते है ये भी महत्वपूर्ण सवाल है. वैसे तो दुनिया में कई सारे रंग है जिनके नाम हम नही जानते है लेकिन जिन्हें जानते है वे है 45 रंग जिनमे

लाल, नीला, पीला, भूरा, हरा, नारंगी, गुलाबी, बैंगनी, काला, स्लेटी, चांदी, गहरा पीला, सफेद, खुबानी, बरंगडी, गहरा लाल रंग, सुनहरा, भूरा लाल, जंग, धूमिल सफेद, गहरा नीला, आसमानी नीला, हल्का आसमानी, मजेंटा, फिरोजा, गहरा लाल, गहरा भूरा, मिटटी रंग, पीतल रंग, लाइलक, धातुमय रंग, भूरा पीला, टकसाल रंग, हाथीदांत रंग, हल्का नीला, हरा नीला, गहरा नीला, नीला रंग, गेरू रंग, नारंगी लाल, गहरा भूरा रंग, केसरिया रंग, सिंदूरी रंग और चमकीला रंग शामिल है.

Colours Name in Hindi

10 सबसे महत्वपूर्ण रंग – 10 Colours Name in Hindi

भगवा रंग

भगवा रंग

भगवा रंग हिन्दुओ का सबसे प्राचीन और सर्वोतम रंग है. ये हमारे ध्वज का रंग है और साथ ही त्याग, बलिदान, शुद्धता और सेवा का भी प्रतीक माना जाता है.

पीला रंग

पीला रंग

पीला रंग उन्नति का प्रतीक होता है इसके अलावा ये रंग ज्ञान, विद्या, सुख शांति, योग्यता के साथ साथ एकाग्रता का प्रतीक भी होता है.

नीला रंग

नीला रंग

आसमान और समुद्र का रंग नीला होता है और ये रंग हमारे मन को सबसे ज्यादा प्रसन्न होता है, ये रंग शोर्य और बल का प्रतीक भी होता है.

सफेद रंग

सफेद रंग

सफेद रंग शुद्धता, पवित्रता और शांति का प्रतीक कहलाता है.

लाल रंग

लाल रंग

लाल रंग को पराक्रम का प्रतीक माना जाता है और ये हमारे शरीर को स्वस्थ बनाने के साथ साथ साथ मन को प्रसन्न बनाता है.

हरा रंग

हरा रंग

हरा रंग हमेशा ही मन को मोहित करने वाला होता है. इसके अलावा हरा रंग मन को शांति और शीतलता का आभास भी करवाता है.

नारंगी रंग

नारंगी रंग

नारंगी रंग हर इन्सान के जीवन में नया उजाला लेकर आता है.

गुलाबी रंग

गुलाबी रंग

गुलाबी रंग प्रेम का सूचक कहलाता है. इस रंग को अगर आप अपने घर की दीवारों पर लगाते है तो वहां सकारात्मक उर्जा का वातावरण रहता है.

भूरा रंग

भूरा रंग

भूरा रंग जोकि मिटटी से जुडा रंग कहलाता है. ये इन्सान के व्यक्तिगत को दर्शाता है जिससे सामने वाला आसानी से समझ जाता है कि आप कैसे इन्सान है.

काला रंग

काला रंग

काला रंग कुछ भी परावर्तित करने की बजाय सबकुछ सोख लेता है; इसलिए अगर कोई इन्सान काले रंग के कपड़े पहनकर लम्बे समय तक नाकारात्मक ऊर्जा के सम्पर्क में आये तो ये हमारे अंदर के भी सारे भाव को सोख लेगा. इसके अलावा अगर आप अच्छी जगह पर यानी सकारात्मक ऊर्जा के सम्पर्क में काला रंग पहनकर जाते है तो ये आपके अंदर अच्छी ऊर्जा भी अपने में सोख लेता है.

Note: आप जानवरों के नाम हिंदी में पढ़ सकते हैं |

इंद्रधनुष के रंग

इंद्रधनुष बारिश के बाद कई जगहों पर निकलता है जिसमे हमे कई रंग दिखाई देते है. लेकिन इसमें कुल कितने रंग होते है बहुत कम लोग जानते है. इंद्रधनुष में कुल 7 रंग होते है जिसमे

  • बैंगनी
  • गहरा नीला
  • आसमानी
  • हरा
  • पीला
  • नारंगी
  • लाल रंग

निष्कर्ष                        

हर इन्सान के जीवन में रंगो का अपना ही अलग महत्व है और हमारे चारो तरफ की दुनिया रंगो से भरी है. रंग ही जीवन है और हमारे आसपास की दुनिया भी रंगीन है. उपर हमने आपको रंगो के प्रकार और सबसे महत्वपूर्ण रंगो के बारे में जानकारी दी है. जिसमे आपना जाना रंगो के प्रकार उनके नाम और इंद्रधनुष में कितने रंग होते है. इसके साथ 10 महत्वपूर्ण रंग और उनके महत्व से जुडी जानकारी भी हमने आपको इस लेख के माध्यम से दी है. आशा करते है आपको ये जानकारी पसंद आई होगी.

Leave a Comment

Your email address will not be published.